कंगना रनौत को मिली ‘Y’ श्रेणी की सुरक्षा, एक्ट्रेस बोलीं- अमित शाह ने रखी हमारे स्वाभिमान और आत्मसम्मान की लाज

न्यूज़ डेस्क। अभिनेत्री कंगना रनौत को शिवसेना नेताओं की ओर से लगातार मिल रही धमकियों के बीच वाई श्रेणी की सुरक्षा दी गई है। सुशांत मामले में मुखर कंगना को शिवसेना सांसद संजय राउत ने तो पहले मुंबई न आने की धमकी दी फिर बेहद ही आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल करते हुए हरामखोर तक कह डाला। शिवसेना के मुखपत्र सामना के संपादक संजय राउत से मिली धमकी के बाद केंद्र सरकार ने कंगना को सुरक्षा प्रदान की है। इसके बाद कंगना ने ट्वीट कर कहा, ‘ये प्रमाण है कि अब किसी देशभक्त आवाज को कोई फासीवादी नहीं कुचल सकेगा। मैं गृहमंत्री अमित शाह जी की आभारी हूं। वो चाहते तो हालातों के चलते मुझे कुछ दिन बाद मुंबई जाने की सलाह देते, मगर उन्होंने भारत की एक बेटी के वचनों का मान रखा, हमारे स्वाभिमान और आत्मसम्मान की लाज रखी, जय हिंद।’

आइए देखिए किस तरह से शिवसेना के सांसद संजय राउत ने धमकी देते हुए अभिनेत्री कंगना रनौत को हरामखोर कहा।

सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले में अभिनेत्री कंगना रनौत जिस तरह से बॉलीवुड और मुंबई पुलिस के बारे में खुलकर बोल रही हैं, उससे वह सत्ताधारी शिवसेना को खटकने लगी हैं। कंगना के मुंबई पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़े करने पर संजय राउत ने कहा कि अगर मुंबई में डर लगता है तो उन्हें मुंबई वापस नहीं आना चाहिए। संजय राउत की इस धमकी पर पलटवार करते हुए कंगना रनौत ने ट्वीट कर कहा कि संजय राउत ने मुझे खुलेआम धमकी दी है और मुंबई वापस न आने को कहा है। मुंबई की सड़कों पर आजादी के नारों के बाद अब खुली धमकी। मुंबई पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर की तरह क्यों लग रही है?

इन धमकियों को देखते हुए बीजेपी नेता राम कदम ने कंगना को सुरक्षा देने की मांग की।

कदम के इस पहल का स्वागत करते हुए कंगना ने कहा कि वह किसी भी तरह की सुरक्षा के लिए तैयार है, लेकिन मुंबई पुलिस की नहीं। माफिया गुंडों से ज्यादा मुझे मुंबई पुलिस से डर लगती है।

इसके बाद शिवसेना के मुखपत्र सामना का संपादक संजय राउत ने लिखा कि अगर मुंबई पुलिस से डर लगता है तो यहां वापस मत आना।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

इसे भी देखें