लैविस लाइफ जीने वाले मुस्लिम गुरू अदनान की थी हजार गर्लफ्रेंड, कोर्ट ने सुनाई 1075 साल की सजा, घर से मिली 69000 गर्भनिरोधक दवाईयां

इस्तांबुल। तुर्की की एक अदालत ने विवादास्पद मुस्लिम उपदेशक अदनान अख्तर को जेल की सजा सुनाई है। कोर्ट ने अख्तर को नाबालिगों के साथ यौन शोषण का आरोप, सेना की जासूसी, ब्लैकमेलिंग, जैसे मामले में दोषी पाते हुए कुल 1,075 साल की सजा सुनाई है। स्थानीय मीडिया के अनुसार, अदनान अख्तर एक निजी TV चैनल पर अपनी धार्मिक शिक्षाओं की वजह से काफी पॉप्युलर हुआ। वह महिलाओं के बीच बैठकर विलासी जीवन जी रहा था। वह उन्हें बिल्ली के बच्चे कहता है और उनके साथ अश्लील व्यवहार करता है।

महिला संगठनों ने खुलासा किया है कि अदनान ने सृजनवाद और रूढ़िवादी मूल्यों का प्रचार किया है- जिसमें लग रहा है कि प्लास्टिक सर्जरी करवा चुकी महिलाएं एक TV स्टूडियों में अदनान के चारों तरफ डांस कर रही हैं।

64 साल के दाढ़ी वाले अख्तर को साल 2018 में इस्तांबुल पुलिस के वित्तीय अपराध इकाई द्वारा उसके समूह पर कार्रवाई की गई। इस दौरान उसे 200 से अधिक अन्य संदिग्धों के साथ हिरासत में लिया गया था। यही नहीं अख्तर के संगठन से जुड़े दो अधिकारियों को भी कोर्ट ने सजा सुनाई है। इनके नाम है टरकन यावास, और अख्तर बाबुना। कोर्ट ने टरकन को 211 साल और अख्तर बाबुना को 186 साल की सजा सुनाई है।

एक आधिकारिक समाचार एजेंसी ने बताया कि अदनान अख्तर को इसके अलावा अमेरिका स्थित मुस्लिम उपदेशक फेथुल्लाह गुलेन के नेतृत्व में एक समूह के समर्थन करने का दोषी पाया गया था कि तुर्की 2016 में एक असफल तख्तापलट के प्रयास के लिए अतिरिक्त दोषी ठहराया। हलांकि अख्तर ने गुलेन से किसी भी तरह के संबंध से इनकार किया।

कुछ 236 प्रतिवादियों को आरोपों का सामना करना पड़ा, जिनमें से 78 को हिरासत में रहते हुए मुकदमे की सुनवाई हुई। हालांकि सितंबर 2019 में मामले की सुनवाई करते हुए कोर्ट ने अधिकांश संदिग्धों को बेकसूर माना।

अख्तर ने दिसंबर में पीठासीन न्यायाधीश को बताया कि उसकी 1,000 गर्लफ्रेंड थीं। वहीं अक्टूबर महीने में हुए एक अन्य सुनवाई के दौरान कोर्ट में बयान देते हुए उसने कहा कि “महिलाओं के लिए मेरे दिल में काफी प्यार है। प्रेम एक मानवीय गुण है। यह एक मुस्लिम की खासियत है। ” अख्तर एक बार कहा था पर कहा : “मैं असाधारण रूप से शक्तिशाली हूं।”

अख्तर 1990 के दशक में पहली बार लोगों के ध्यान में तब आया जब वह एक संप्रदाय का नेता था जो कई सेक्स स्कैंडल में पकड़ा गया था।उसने साल 2011 में ऑनलाइन ए 9 टेलीविज़न चैनल ने की शुरूआत की थी, जो तुर्की के धर्मगुरुओं को दर्शाता था। बाद में उसके संगठन का भांडाफोड़ होने के बाद तुर्की की मीडिया वाचडॉग आरटीयूके द्वारा चैनल को सीज कर बंद कर दिया था।

मामले के ट्रायल के दौरान एक ही महिला की पहचान की जा सकी जिसने कोर्ट में अदनान के खिलाफ गवाही दी। विक्टिम महिला ने अदालत को बताया कि अख्तर ने कई बार उसका और अन्य महिलाओं का यौन शोषण किया।जिन महिलाओं के साथ उसने बलात्कार किया था उनमें से कुछ को गर्भनिरोधक गोलियां लेने के लिए मजबूर किया गया था। महिला ने अदालत को बताया, कि वह खुद 17 साल की उम्र में उसके संगठन में शामिल हो गई थी।

पुलिस ने अदनान के घर से 69000 गर्भनिरोधक दवाईयां पाई गई। वह इन दवाईयों का इस्तेमाल महिलाओं के स्किन डिसिजस और माहवारी के अनियमितता के दौरान करवाता था। तुर्की प्रशासन ने अख्तर के विला को ध्वस्त कर दिया है जिसे वह अपने टीवी स्टूडियों के रूप में इस्तेमाल करता था। इसके अलावा प्रशासन ने उसकी सारी संपत्ति साल 2018 में जब्त कर ली थी।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

इसे भी देखें