#FakeNaxalBhabhi : हाथरस केस में PFI के बाद अब नक्सल कनेक्शन का नया खुलासा, पीड़िता की भाभी बनकर रह रही थी प्रियंका वाड्रा से गले मिलने वाली संदिग्ध महिला

न्यूज़ डेस्क। हाथरस गैंगरेप केस में एक बड़ा खुलासा हुआ है। यहां PFI के बाद अब नक्सल कनेक्शन भी सामने आया है। हाथरस के बूलगढ़ी गांव की मृत दलित लड़की के घर पर 16 सितंबर के बाद से ही सक्रिय फर्जी ‘भाभी’ अब गायब हैं। फर्जी रिश्तेदार बन घर में रहकर पीड़ित परिवार को भड़काने के साथ मीडिया में काफी बयान देने वाली भाभी अब सीन से गायब हैं। हाथरस के बहाने उत्तर प्रदेश के साथ-साथ पूरे देश का माहौल खराब करने वाली इस महिला का नक्सल कनेक्शन है। देश को दलित राजनीति की आग में झौंकने के लिए यह महिला गांव में दो दिन बाद से ही सक्रिय हो गई थी। बताया जा रहा है कि कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा इस महिला के साथ गले मिलकर रोई भी थी।

नक्सली महिला भाभी पहचान छिपाने के लिए हमेशा घूंघट में रहती थी। इस फेक भाभी ने दलित-सवर्ण के बीच संघर्ष के लिए उसकाने के साथ मीडिया में बार-बार इंटरव्यू देकर लोगों को भड़काने का भी काम किया।

हाथरस रेप को लेकर राज्य में सांप्रदायिक हिंसा भड़काने के लिए विदेश से 100 करोड़ रुपये की फंडिग के साथ सिर्फ दो दिन के लिए बनी ‘जस्टिसफॉरहाथरस’ नाम की वेबसाइट की संदिग्ध भूमिका के बाद अब फेक भाभी… यह सब किसी बड़ी साजिश का हिस्सा तो नहीं है? वैसे हाथरस रेप मामले की फोरेंसिक रिपोर्ट्स में बलात्कार की पुष्टि नहीं हुई है। इस मामले में उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार SIT का गठन कर चुकी है। Sit मामले की जांच कर रही है। एसआईटी ने इस नक्सली फेक भाभी को गिरफ्तार करने के लिए तलाशी अभियान शुरू कर दिया है। इस नक्सली महिला के बारे में खुलासा होने पर सोशल मीडिया पर यूजर्स कांग्रेस और प्रियंका गांधी वाड्रा को निशाना बना रहे हैं। ट्विटर पर #FakeBhabhi और #FakeNaxalBhabhi टॉप ट्रेंड कर रहा है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

इसे भी देखें