CDS जनरल बिपिन रावत के मौत की सेना ने की पुष्टी, 14 में से 13 की मौत, PM मोदी, राष्ट्रपति सहित रक्षामंत्री ने जताया गहरा दुःख

नई दिल्ली। भारत के चीफ ऑफ़ आर्मी डिफेन्स स्टाफ (CDS) विपिन रावत का आज 8 दिसंबर,2021 को हेलीकाप्टर दुर्घटना में निधन हो गया। वो 64 वर्ष के थे। जनरल रावत सहित 14 लोगों को कोयम्बटूर से सुलुर ले जा रहा भारतीय वायुसेना का हेलीकाप्टर कुन्नूर में क्रैश हो गया। सेना ने इसकी आधिकारिक पुष्टि कर दी है। प्रधानमंत्री, गृहमंत्री समेत तमाम हस्तियों ने उनके निधन पर गहरा शोक जताया है। उनके निधन से देश भर में दुःख की लहर दौड़ गई है।

तमिलनाडु में दुर्घटनाग्रस्त हुए सैन्य हेलिकॉप्टर में 14 लोग सवार थे। इनमें CDS जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका रावत, ब्रिगेडियर एलएस लिद्दर, लेफ्टिनेंट कर्नल हरजिंदर सिंह, एनके गुरसेवक सिंह, एनके जितेंद्र कुमार, एल/नायक विवेक कुमार, एल/नायक बी साई तेजा, हवलदार सतपाल शामिल थे। केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह दुर्घटना को लेकर प्रधानमंत्री मोदी को ब्रीफ किया है। वहीं, दुर्घटना के कारणों का पता लगाने के लिए भारतीय वायु सेना ने जाँच के आदेश दिए हैं।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, दुर्घटनास्थल से अब तक 5 शव बरामद किए गए हैं। वहीं 14 में से 11 के मौत का भी दावा किया जा रहा है। साथ ही तीन घायलों को हॉस्पिटल ले जाया गया है।

वहीं तमिलनाडु के फॉरेस्ट मिनिस्टर के अलावा वायुसेना प्रमुख सहित कई अधिकारी और नेता घटनास्थल पर मौजूद हैं।

ज्ञात हो कि जनरल रावत का जन्म 16 मार्च 1958 को उत्तराखंड के पौड़ी में हुआ था। जनरल रावत के परिवार की पृष्ठभूमि भी सेना से जुड़ी है। उनके पिता लक्षमण सिंह रावत भी सेना में लेफ्टिनेंट जनरल के पद से रिटायर हुए थे। वहीं उनकी माता नामी राजनेता और उत्तरकाशी से पूर्व विधायक किशन सिंह परमार की बेटी थीं। जनरल रावत की आरम्भिक शिक्षा कैरेबियन हॉल देहरादून से हुई थी। उनकी उच्च शिक्षा शिमला के सेंट एडवर्ड स्कूल से पूरी हुई।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें