दिल्ली में 31 मार्च तक 50 से अधिक लोगों वाले कार्यक्रमों पर रोक, जिम-नाइट क्लब भी बंद : मुख्यमंत्री केजरीवाल

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को कहा कि कोरोना वायरस के बढ़ते कहर के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी में 31 मार्च तक 50 से अधिक लोगों की मौजूदगी वाले धार्मिक, सामाजिक सांस्कृतिक कार्यक्रम और राजनीतिक बैठकें करने की अनुमति नहीं होगी। गौरतलब है कि दिल्ली शाहीन बाग और जामिया मिल्लिया इस्लामिया में संशोधित नागरिकता कानून (CAA) के खिलाफ पिछले 90 दिन से धरना जारी है। शाहीन बाग में बैठीं महिलाओं का कहना है कि प्रदर्शनकारियों को मास्क और सैनिटाइज़र मुहैया करा दिया गया है और कोरोना वायरस को लेकर कोई डर नहीं है।

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि दिल्ली सरकार ने मार्च अंत तक सभी जिम, नाइट क्लब और स्पा को भी बंद कर दिया है। उन्होंने कहा, ‘‘31 मार्च तक 50 से अधिक लोगों वाले धार्मिक, सामाजिक सांस्कृतिक कार्यक्रम और राजनीतिक बैठक नहीं होंगी। ये प्रतिबंध प्रदर्शनों पर भी लागू होंगे।’’ उन्होंने कहा कि शादियों को कोरोना वायरस के संबंध में जारी पाबंदियों से बाहर रखा गया है लेकिन तारीखों को आगे बढ़ाने पर विचार करने का सुझाव दिया गया है। उन्होंने कहा कि ऑटो, टैक्सियों को मुफ्त में संक्रमण मुक्त किया जाएगा, अधिकतर स्थानों पर हैंड सैनिटाइज़र मुहैया कराए जाएंगे। साथ ही दिल्ली मेट्रो में भी थर्मल जांच संभव है या नहीं इस पर विचार किया जाएगा।

श्री केजरीवाल ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 से संक्रमित सात में से चार लोगों का इलाज जारी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जरूरत पड़ने पर पर्याप्त बिस्तरों का बंदोबस्त है। तीन होटलों लेमन ट्री, रेड फॉक्स और आईबीआईएस में लोगों को पृथक रखे जाने की व्यवस्था की गई है। दिल्ली सरकार ने शहर में सिनेमाघरों, स्कूलों, विश्व विद्यालयों और सभी स्विमिंग पूल 31 मार्च तक बंद रखने का पिछले सप्ताह आदेश दिया था।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें