रूस ने किया भारत का समर्थन, आर्टिकल 370 पर भारत सरकार का संप्रभु निर्णय

नई दिल्ली। रूस ने आर्टिकल 370 को हटाने के मामले पर भारत का साथ देते हुए कहा कि यह भारत का आतंरिक मामला है। रूसी राजनयिक निकोले कुदाशेव ने बुधवार को कहा कि अनुच्छेद 370 पर भारत सरकार का संप्रभु निर्णय है। उन्होंने यहां तक करार दे दिया है कि कश्मीर मसला भारत का आंतरिक मामला है। कश्मीर मसले को भारत और पाकिस्तान के बीच शिमला और लाहौर समझौते के तहत हल किया जा सकता है। हमारे विचार बिल्कुल भारत जैसे ही हैं।

भारत में रूसी दूतावास के उप प्रमुख रोमन बाबूसकिन ने भी कहा कि रूस की भारत-पाकिस्तान विवाद में कोई भूमिका नहीं है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) में बंद दरवाजे की बैठक के दौरान हमने दोहराया कि कश्मीर भारत का एक आंतरिक मुद्दा है। रोमन बाबूसकिन ने आगे कहा कि ‘नॉट फर्स्ट यूज (NFU)’ एटमी पॉलिसी भारत का एक घरेलू मामला है।

भारत और पाकिस्तान के एटमी हथियार के बारे में रोमन बाबूसकिन ने कहा कि ‘यह चिंता का विषय है। भारत और पाकिस्तान गैर-आधिकारिक एटमी पावर हैं। ऐसे में तनाव का बढ़ना चिंता की बात है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें