मैं ऐसे राष्ट्रपति बनने की प्रतिज्ञा लेता हूं, जो विभाजन नहीं, बल्कि एकीकरण करना चाहता है – बाइडेन

वाशिंगटन। डेमोक्रेट पार्टी के उम्मीदवार जो बाइडेन अमेरिका के 46 वें राष्ट्रपति चुन लिए गए हैं और इसके साथ ही भारतीय मूल की कमला हैरिस दुनिया के सबसे शक्तिशाली लोकतंत्र में उप राष्ट्रपति पद संभालने जा रही है, अपनी जीत के बाद बाइडेन ने अपने पहले संबोधन में कहा कि ‘मैं अमेरिका का ऐसा राष्ट्रपति बनूंगा, जो लोगों को बांटने नहीं जोड़ने का काम करेगा, जो रेड स्टेट या ब्लू स्टेट की तरह नहीं बल्कि यूनाइटेड स्टेट्स ऑफ अमेरिका की तरह देखेगा।’

बाइडेन ने आगे कहा कि अमेरिकी लोगों ने मुझमें और निर्वाचित उप-राष्ट्रपति कमला हैरिस में जो विश्वास रखा है, उससे मैं सम्मानित और विनम्र महसूस कर रहा हूं, मैं सभी का शुक्रगुजार हूं, इतने मुश्किल हालात में लोगों ने रिकार्ड तोड़ वोटिंग की है, इससे ये बात साबित होती है कि लोकतंत्र अमेरिका के दिल में धड़कता है।

ज्ञात हो कि अपनी इस जीत के बाद बाइडेन ने ट्वीट भी किया थाा, जिसमें उन्होंने लिखा कि ‘मैं सम्मानित महसूस कर रहा हूं कि आपने मुझे हमारे महान देश का नेतृत्व करने के लिए चुना है, आगे का रास्‍ता कठिन है लेकिन मैं आपसे ये वादा करता हूं कि मैं सभी अमेरिकन का राष्‍ट्रपति बनूंगा, चाहे उसने मुझे वोट दिया हो या नहीं।’

गौरतलब है कि बाइडेन और हैरिस की इस ऐतिहासिक जीत पर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी दोनों लोगों को जीत की बधाई दी है। पीएम मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा ‘जो बाइडेन-हैरिस प्रशासन के साथ भारत-अमेरिका के संबंध नई ऊंचाइयों को छुएंगे। बाइडेन आपको बधाई हो आपकी शानदार जीत पर! अब मैं आशा करता हूं कि भारत-अमेरिका संबंधों को अधिक से अधिक ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए दोनों देश साथ मिलकर काम करेंगे।’

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

इसे भी देखें