लगभग छह घंटे के बाद फेसबुक, व्हाट्सएप, इंस्टाग्राम फिर शुरू, मार्क जुकरबर्ग ने मांगी माफी, गँवाए इतने अरब डॉलर

वॉशिंगटन। सोमवार को करीब 6 घंटे तक फेसबुर और वाट्सएप का सर्वर पूरी दुनिया में डाउन रहा और इस दौरान पूरी दुनिया के लोग काफी परेशान रहे। फेसबुक के अलावीा इसके मैसेजिंग प्लेटफॉर्म व्हाट्सएप और इसके फोटो-शेयरिंग ऐप इंस्टाग्राम भी छह घंटे से अधिक समय के बाद डाउन रहा और करीब 6 घंटे बाद फिर से सर्वर बहाल हो गया। लेकिन, इन 6 घंटे में सिर्फ दुनिया के लोग परेशान ही नहीं हुए…बल्कि, फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग अरबों डॉलर गंवाकर अमीरों की लिस्ट में नीचे खिसक आए।

करीब 6 घंटे के बाद जब फेसबुक का सर्वर सही हो पाया तो वापस आकर फेसबुक ने अपने उपयोगकर्ताओं से माफी मांगी और उन्हें हुई परेशानी के लिए खेद जताया। साथ ही फेसबुक ने दिक्कत बर्दाश्त करने के लिए यूजर्स को धन्यवाद भी दिया, लेकिन फेसबुक ने ये नहीं बताया कि आखिर किन वजहों से फेसबुक का सर्वर 6 घंटे से ज्यादा वक्त के लिए डाउन रहा। इंटरनेट के मुद्दों पर नजर रखने वाले डाउनडेटेक्टर ने कहा कि जब फेसबुक का सर्वर डाउन हुआ था, उस वक्त करीब एक करोड़ से ज्यादा लोगों ने सर्वर डाउन होने की रिपोर्ट की थी, जो विश्व का सबसे बड़ा इंटरनेट परेशानी बन गया है।

फेसबुक सर्वर के डाउन होने से फेसबुक के संस्थापक मार्क जकरबर्ग को व्यक्तिगत तौर पर भारी नुकसान उठाना पड़ा है। रिपोर्ट के मुताबिक, सिर्फ 6 घंटे तक फेसबुक का सर्वर डाउन रहने की वजह से मार्क जुकरबर्ग को करीब 7 अरब डॉलर यानि करीब 52 हजार करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है और इस नुकसान की वजह से मार्क जुकरबर्ग अरबपतियों की लिस्ट में एक पायदान नीचे खिसक आए हैं। आपको बता दें कि, भारतीय समय के मुताबिक रात करीब 10 बडे दुनियाभर में फेसबुक का सर्वर डाउन हो गया। फेसबुक के अलावा इंस्टाग्राम, वाट्सएप, अमेरिकी टेलीकॉम कंपनियां जैसे एटी एंड टी, वेरिजॉन और टी मोबाइल के सर्वर भी डाउन हो गये थे।

6 घंटे तक तक फेसबुक का सर्वर डाउन रहने की वजह से सोमवार को अमेरिकी शेयर बाजारों में फेसबुक के शेयरो में जमकर बिकवाली शुरू हो गई एक रिपोर्ट के मुताबिक, सिर्फ एक ही दिन में फेसबुक के शेयर में 5 प्रतिशत तक की गिरावट आ गई। आपको बता दें कि, सितंबर 15 तारीख के बाद फेसबुक के शेयर्स 15 प्रतिशत से ज्यादा टूट चुके हैं। सोमवार को स्टॉक स्लाइड ने रिपोर्ट दी है, कि 5 प्रतिशत शेयर गिरने की वजह से फेसबुक के संस्थापक 7 अरब गंवाकर अब मशहूर कारोबारी बिल गेट्स से एक पायदान नीचे खिसक गये हैं।

‘वाल स्ट्रीट जर्नल’ ने फेसबुक को लेकर कई रिपोर्ट्स पब्लिश किए थे, जिसके बाद फेसबुक के शेयर लगातार गिरने लगे और अभी तक फेसबुक के शेयर 15 सितंबर के बाद 15 प्रतिशत तक गिर चुके हैं। वहीं, इन खुलासे को लेकर फेसबुक ने कहा कि, उसके प्रोडक्ट के साथ जो दिक्कतें हैं, उसके पीछे राजनीतिक ध्रुवीकरण है और ये मुद्दा काफी जटिल है और इसकी वजह टेक्नोलॉजी नहीं है। फेसबुक के वैश्विक मामलों के उपाध्यक्ष निक क्लेग ने सीएनएन को बताया कि, “मुझे लगता है कि यह लोगों को यह मानने की छूट देता है कि अमेरिका में राजनीतिक ध्रुवीकरण के मुद्दों को देखते हुए टेक्नोलॉजी के लिए एक स्पष्टीकरण होना चाहिए”

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें