उत्तर कोरिया में हंसने और रोने पर लगा प्रतिबंध, नियम तोड़ने पर कड़ी सजा

नई दिल्ली। उत्तर कोरिया अपने अजीबोगरीब नियमों के लिए कुख्यात है। अब किम जोंग उन सरकार ने हंसने, शराब पीने, किराने की खरीददारी पर प्रतिबंध लगा दिया है। ये प्रतिबंध 11 दिनों के लिए है। क्योंकि प्योंगयांग अपने पूर्व नेता किम जोंग इल की 10वीं बरसी मना रहा है। ऐसे में यह फरमान सुनाया गया है।

शोक की अवधि इस साल 11 दिनों तक रहेगी क्योंकि यह 10वीं बरसी है। आमतौर पर हर साल 10 दिन का शोक मनाया जाता रहा है। रिपोर्ट्स के मुताबिक तानाशाह किम ने 11 दिनों तक पूरे देश में लोगों के हंसने तक पर प्रतिबंध लगा दिया है। इसके साथ ही शराब पीने और किसी भी तरह के आयोजन करने पर भी प्रतिबंध लगाया गया है।

मीडिया से बात करते हुए स्थानीय लोगों ने कहा है कि इतिहास में शोक की अवधि के दौरान शराब पीने या नशे में पकड़े जाने वाले कई लोगों को गिरफ्तार किया गया था और उन्हें वैचारिक अपराधियों के रूप में माना जाता था। उन्हें ले जाया गया और फिर कभी नहीं देखा गया। लोगों ने बताया है कि यदि शोक की अवधि के दौरान आपके परिवार में किसी की मौत हो जाती है फिर भी आप जोर से रो नहीं सकते हैं। इतना ही नहीं 11 दिनों के शोक के बाद ही आप शव का अंतिम संस्कार कर सकते हैं। इस दौरान आप जन्मदिन भी नहीं मना सकते हैं।

गौरतलब है कि किम जोंग इल का 2011 में 69 साल की उम्र में हार्ट अटैक से निधन हो गया था। इल ने 1994-2011 तक उत्तर कोरिया पर शासन किया था। इल की मौत के बाद किम जोंग उन सत्ता संभाल रहे हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें