फैल रहा ओमिक्रॉन, वैक्सीन नहीं ली तो होगी मौत, बाइडेन की चेतावनी

नई दिल्ली। दुनिया भर में कोरोना वायरस के ओमिक्रॉन वेरिएंट ने चिंता बढ़ा रखी है। इस बीच अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने इस वेरिएंट को लेकर लोगों को आगाह किया है। गुरुवार को जो बाइडन ने कहा कि यूनाइटेड स्टेट में कोरोना वायरस कापी तेजी से फैल सकता है और यह सर्दी गंभीर बीमारियों वाली होगी। उन्होंने वैक्सीन ना लेने वालों को आगाह करते हुए कहा कि वैक्सीन नहीं लेने वालों की मौत भी हो सकती है।

यूनाइटेड स्टेट के राष्ट्रपति ने शीर्ष स्वास्थ्य अधिकारियों से महामारी की स्थिति को लेकर जानकारी हासिल की है। बाइडेन ने लोगों से कहा कि वो जल्द से जल्द बूस्टर शॉट लें। बाइडन ने कहा, ‘इस सर्दी गंभीर रोगों वाली नजर आ रही है और वैक्सीन ना लेने वालों की मौत हो सकती है।’ अमेरिकी राष्ट्रपति ने एक ट्वीट में कहा, ‘अगर आपने वैक्सीन ली है और फिर भी आप नए वेरिएंट को लेकर चिंतित है तो बूस्टर डोज लें। अगर आपने वैक्सीन नहीं ली..जाइए जाकर पहला डोज लीजिए। हम ओमिक्रॉन वेरिएंट से एक साथ मिलकर लड़ेंगे।’

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि ओमिक्रॉन वैरिएंट तेजी से यूनाइटेड स्टेट में नहीं फैल रहा और इसके लिए यहां प्रशासन तारीफ के काबिल है। बाइडेन ने कहा, ‘ओमिक्रॉन अब यहा हैं…यह फैल रहा है और आगे जाकर यह और भी ज्यादा बढ़ सकता है। अपना बूस्टर डोज लें..यह बहुत जरुरी है।’बता दें कि पहले से ही डेल्टा स्वरूप के संक्रमण से जूझ रहे अमेरिका में कोरोना वायरस के नए स्वरूप ओमिक्रॉन के कारण अराजक स्थिति की एक और लहर का खतरा मंडरा है और देश में संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी दोगुनी हो जाने का खतरा है।

हालांकि व्हाइट हाउस ने इससे पहले कहा था कि लॉकडाउन लागू करने की कोई आवश्यकता नहीं है, क्योंकि टीके व्यापक पैमाने पर उपलब्ध हैं और वे वायरस के गंभीर परिणामों से सुरक्षा मुहैया कराने में कारगर प्रतीत होते हैं।

हार्वर्ड मेडिकल स्कूल के नेतृत्व में एक शोध सहयोग के लिए कोविड के स्वरूपों पर नजर रखने वाले जैकब लेमीक्स ने कहा, ”डेल्टा संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं, बल्कि तेजी से बढ़ रहे हैं और ऐसे में ओमीक्रोन मामलों की संख्या भी बढ़ती जा रही है। यह चिंताजनक है, क्योंकि हमारे अस्पताल पहले ही भरे हुए हैं और कर्मी थके हुए हैं।”

अमेरिका में रोग नियंत्रण एवं रोकथाम केंद्र की निदेशक रोशेल वालेंस्की ने कहा है कि शुरुआती आंकड़े बताते हैं कि ओमिक्रॉन डेल्टा से अधिक संक्रामक है और इसके दोगुने होने का समय दो दिन है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें