वैज्ञानिक आंकड़े आने के बाद ही 15 साल से कम उम्र के बच्चों का होगा टीकाकरण : स्वास्थ्य सचिव

नई दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने गुरुवार को कहा कि 12 से 14 साल के आयु वर्ग के लिए कोविड टीकाकरण अभियान अधिक वैज्ञानिक डेटा विकसित होने के बाद ही शुरू होगा। उन्होंने भारत में वर्तमान कोविड की वृद्धि पर मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि जैसे ही वैज्ञानिकों डाटा विकसित होता हैं, हम इस आयु वर्ग के लिए टीकाकरण के कवरेज का विस्तार करेंगे। हम इस संबंध में वैज्ञानिक आंकड़ों के आधार पर निर्णय लेंगे।

नीति आयोग के सदस्य, स्वास्थ्य, डॉ वी.के. पॉल ने कहा कि इस आयु वर्ग का टीकाकरण एक महत्वपूर्ण उद्देश्य है। हम इस पर निर्णय तब लेंगे जब हमारे पास वैज्ञानिक साक्ष्य होंगे।

सेंट्रल ड्रग स्टैंडर्ड एंड कंट्रोल ऑर्गनाइजेशन (सीडीएससीओ) की विषय विशेषज्ञ समिति के बारे में दो वैक्सीन कोविशील्ड और कोवैक्सिन के लिए बाजार की मंजूरी प्रदान करने की सिफारिश के बारे में, भूषण ने कहा कि राष्ट्रीय नियामक, ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया को सिफारिश की गई है, लेकिन, इसमें अंतिम निर्णय लेना बाकी है। भूषण ने यह भी कहा कि देश में अब तक 15-18 आयु वर्ग के 52 प्रतिशत बच्चों का टीकाकरण किया जा चुका है।

सक्रिय मामलों पर, उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल, पश्चिम बंगाल, यूपी, गुजरात, ओडिशा, दिल्ली और राजस्थान शीर्ष 10 राज्यों में से हैं, और उनमें से, महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल, दिल्ली और उत्तर प्रदेश ‘चिंताजनक राज्यों’ में शामिल है। स्थिति की लगातार समीक्षा की जा रही है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें