अगले 6-8 हफ्ते बेहद अहम, सावधानी बरती तो घट जाएंगे कोरोना के केस- रणदीप गुलेरिया

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के दैनिक मामलों में दो दिन की गिरावट के बाद एक बार फिर से इजाफा देखने को मिला है, जिसके बाद महामारी की तीसरी लहर की आशंका बढ़ने लगी है। सोमवार-मंगलवार को जहां कोरोना के दैनिक मामलों की संख्या 20 हजार से नीचे पहुंची, वहीं गुरुवार को ये आंकड़ा एक बार फिर से 26 हजार के पार पहुंच गया। इस बीच दिल्ली स्थित एम्स के डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा है कि त्यौहारी सीजन में कोरोना वायरस के खतरे से बचने के लिए लोगों को विशेष तौर पर एहतियात बरतने की जरूरत है।

शुक्रवार को मीडिया से बात करते हुए डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा, ‘त्यौहारी सीजन के दौरान सार्वजनिक जगहों पर भीड़ बढ़ती है, इसलिए हम लोगों को ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है। अगर हम लोगों ने केवल अगले 6 से 8 हफ्ते तक सावधानी बरती, तो आने वाले वक्त में हम कोरोना वायरस के मामलों में एक बड़ी गिरावट देख पाएंगे।’

इसके अलावा केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने भी आगाह किया है कि त्यौहारी सीजन के दौरान लापरवाही भारी पड़ सकती है। कोरोना वायरस के हालात को देखते हुए दिल्ली में इस बार सार्वजनिक तौर पर छठ का त्यौहार मनाने पर रोक लगा दी गई है। गुरुवार को दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने इस संबंध में गाइडलाइन जारी करते हुए लोगों से अपील की, कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए छठ का त्यौहार अपने घरों पर ही मनाएं।

गौरतलब है कि देश की राजधानी दिल्ली सहित ज्यादातर राज्यों में कोरोना वायरस के दैनिक मामलों में गिरावट आई है, लेकिन केरल अभी भी कोरोना वायरस की गंभीर चपेट में है। शुक्रवार को देश में मिले कोरोना वायरस के कुल 26,727 मरीजों और 277 मौतों में से 15,914 केस और 122 मौतें अकेले केरल में दर्ज हुईं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें