केजरीवाल बोले- दिल्ली में फूटने वाला है कोरोना बम, लागू करेंगे उप राज्यपाल का फैसला, साथ मिलकर कोविड-19 से

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को कहा कि उनकी सरकार दिल्ली के सरकारी और निजी अस्पतालों को दिल्ली के लोगों के लिए आरक्षित करने के दिल्ली सरकार के फैसले को रद्द करने वाले उपराज्यपाल के आदेश को लागू करेगी। ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि आकड़ें दिखाते हैं कि दिल्ली में कोविड-19 के मामले आने वाले दिनों में उल्लेखनीय रूप से बढ़ेंगे। केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली से बाहर के लोग इलाज के लिए शहर आते रहे तो 31 जुलाई तक दिल्ली में 1.5 लाख बिस्तरों की जरूरत पड़ेगी। उन्होंने कहा कि इन 1.5 लाख बिस्तरों में से दिल्ली के लोगों के लिए 80,000 बिस्तरों की जरूरत होगी।

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा, ‘‘हमारे सामने आगे एक बड़ी चुनौती है। हमें एक साथ मिलकर कोविड-19 के खिलाफ लड़ना होगा।’’ उन्होंने लोगों से अपील की कि वह कोविड-19 के खिलाफ एक बड़े आंदोलन की तरह लड़ें। मुख्यमंत्री ने कहा कि आप सरकार सभी को इलाज देने की व्यवस्था करने का प्रयास करेगी। केजरीवाल ने कहा, ‘‘यह राजनीति करने का समय नहीं है। हमें एक साथ मिलकर कोविड-19 के खिलाफ लड़ना होगा।’’ उन्होंने कहा कि अब तक दिल्ली में 31,000 मामले सामने आए हैं और इनमें से 18,000 लोगों का उपचार चल रहा है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें