मेडिकल की दुनिया में पहली बार हुआ चमत्कार, डॉक्टरों ने इंसान में फिट किया सूअर का दिल

नई दिल्ली। दुनियाभर में अंगदान करने वालों की भारी कमी है। इसके बावजूद डॉक्टर्स मरीजों का आखिरी समय तक इलाज करने की कोशिश करते रहते हैं। ऐसे में दिल को ट्रांसप्लांट करने की एक बड़ी खबर सामने आई। जिसने सभी को चौंका दिया। अमेरिकी चिकित्सकों ने एक 57 वर्षीय व्यक्ति में सूअर का दिल सफलतापूर्वक ट्रांसप्लांट किया है। हालांकि मरीज को विश्वास ही नहीं हो पा रहा है कि उसके भीतर सूअर का दिल ट्रांसप्लांट किया गया है।

अंग्रेजी न्यूज एजेंसी ‘द एसोसिएटेड प्रेस’ की रिपोर्ट्स के मुताबिक, मैरीलैंड मेडिकल स्कूल विश्वविद्यालय ने एक बयान में बताया कि शुक्रवार को ट्रांसप्लांट किया गया है। इसके बाद मैरीलैंड मेडिकल स्कूल विश्वविद्यालय ने बताया कि इस ऑपरेशन के तीन दिन बाद भी मरीज की तबियत ठीक है। हालांकि यह जानना जल्दबाजी होगा कि ऑपरेशन सफल रहा है या नहीं।

डॉक्टरों ने बताया कि ट्रांसप्लांट से यह जानकारी मिली है कि आनुवंशिक बदलाव के साथ जानवर का दिल तत्काल अस्वीकृति के बिना मानव शरीर में कार्य कर सकता है। रिपोर्ट के मुताबिक, 57 वर्षीय व्यक्ति डेविड बेनेट के बेटे ने बताया कि इस प्रयोग के सफल होने की कोई गारंटी नहीं थी, लेकिन वह मर रहे थे। इतना ही नहीं वह मनुष्य के दिल ट्रांसप्लांट के योग्य भी नहीं थे और उनके पास कोई और विकल्प नहीं था।

डेविड बेनेट ने ऑपरेशन के एक दिन पहले कहा था कि ट्रांसप्लांट मेरे लिए करो या फिर मरो की स्थिति थी। मैं जीना चाहता हूं। मैं जानता हूं कि यह अंधेरे में तीर चलाने जैसा है लेकिन मेरा पास यही आखिरी रास्ता है।

रिपोर्ट के मुताबिक, डेविड बेनेट सोमवार को दिल और फेफड़ों से जुड़ी हुई मशीन के सहारे सांस ले पा रहे थे। उनके स्वास्थ्य लिहाज से आगामी कुछ सप्ताह महत्वपूर्ण रहने वाले हैं। ऐसे में डॉक्टर्स सावधानीपूर्वक सतर्कता के साथ निगरानी करते रहेंगे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें