#blacklivesmatter : इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के क्रिकेटरों ने घुटने के बल बैठकर किया नस्लवाद का विरोध

साउथम्पटन। इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के क्रिकेटर चार महीने बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की बहाली करने वाले पहले टेस्ट की शुरूआत से पूर्व ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ #blacklivesmatter आंदोलन के समर्थन में घुटने के बल बैठे। दर्शकों के बिना रोस बाउल स्टेडियम पर पहली गेंद फेंके जाने से पूर्व फील्डिंग कर रहे वेस्टइंडीज के क्रिकेटर आउटफील्ड में घुटने के बल बैठे। इंग्लैंड के खिलाड़ियों ने भी यही किया। दोनों टीमों ने अपनी जर्सी की कॉलर पर ब्लैक लाइव्स मैटर का लोगो पहन रखा था। वेस्टइंडीज की टीम पहले ही कह चुकी है कि इस दौरे पर उनकी प्रेरणा का स्रोत यह आंदोलन है।

अमेरिका में मई में अफ्रीकी अमेरिकी जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस की बर्बरता के बाद मौत के बाद से दुनिया भर में नस्लवाद के विरोध में यह आंदोलन चल रहा है। मैच से पहले कोरोना वायरस महामारी में अपनी जान गंवाने वाले लोगों की याद में एक मिनट का मौन रखा गया। खेल बारिश और गीली आउटफील्ड के कारण तीन घंटे देर से शुरू हुआ। वर्षाबाधित पहले दिन अब अधिकतम 70 ओवर ही फेंके जा सकेंगे। इंग्लैंड के कार्यवाहक कप्तान बेन स्टोक्स ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया। इंग्लैंड ने लंबे समय से टीम के नियमित सदस्य रहे स्टुअर्ट ब्रॉड को बाहर रखा। वहीं वेस्टइंडीज टीम में रहकीम कॉर्नवाल को जगह नहीं मिली।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें