रायपुर में नेशनल बाईक रेसिंग चैंपियनशिप का आयोजन पूरे छत्तीसगढ़ के लिए गौरव – मुख्यमंत्री श्री बघेल

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज शाम राजधानी रायपुर के आउटडोर स्टेडियम में 5 मार्च से आयोजित दो दिवसीय राष्ट्रीय सुपरक्रास प्रतियोगिता 2022 एवं फ्री स्टाइल मोटोक्रास प्रतियोगिता में शामिल हुए। प्रतियोगिता का आयोजन खेल एवं युवा कल्याण विभाग तथा छत्तीसगढ़ मोटर स्पोर्ट्स एसोसिएशन के संयुक्त तत्वाधान में किया गया। इससे पहले उन्होंने स्टेडियम में स्वयं बाईक चलाते हुए प्रवेश कर मंच तक पहुंचे और सभी बाईकर्स तथा खेल प्रेमी दर्शकों का भरपूर उत्साहवर्धन किया। प्रतियोगिता में राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर के बाईक राईडर्स के साहसिक और हैरत अंगेज प्रदर्शन से दर्शक रोमांचित हो उठे।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री बघेल ने सम्बोधित करते हुए कहा कि राष्ट्रीय सुपरक्रास प्रतियोगिता 2022 एवं फ्री स्टाईल मोटोक्रास का आयोजन रायपुर में किया गया, जो देश में पहली बार किसी आउटडोर स्टेडियम में फ्लड लाईट में आयोजित हो रहा है। यह हमारे प्रदेश के लिए गौरव का विषय है। राज्य गठन के पश्चात् से ही छत्तीसगढ़ मोटर स्पोर्टस् द्वारा वर्ष 2003 से अब तक विभिन्न राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर की रैली का सफल आयोजन किया गया है।

उन्होंने कहा कि यह आयोजन सबसे अलग एवं रोमांचक और महत्वपूर्ण है। इस प्रकार के आयोजन राज्य की जनता, खिलाड़ी में मोटर स्पोर्ट्स को चढ़ावा देना, उन्हें प्रोत्साहित करना तथा यह बताना कि इस प्रकार की खेल प्रतियोगिता के आयोजन के लिए अंतर्राष्ट्रीय स्तर के साथ-साथ भारत और छत्तीसगढ़ राज्य भी सक्षम है। प्रतियोगिता का मूल उद्देश्य युवाओं को रोड रेज एवं आम रास्तों पर स्टंट इत्यादि से रोकना एवं एक विशेष स्थल पर उनको मौका प्रदाय कर अपने प्रतिभा का प्रदर्शन करने का अवसर देना है। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अत्याधिक लोकप्रिय, रोमांच, गति एवं साहस से भरपूर इस विशेष खेल को छत्तीसगढ़ में भी स्थापित करना, छत्तीसगढ़ मोटर स्पोर्टस् एसोसिएशन का यही उद्देश्य रहा है। इसमें हमारी सरकार पूर्ण सहयोग प्रदान कर रही है।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि राष्ट्रीय प्रतियोगिता के साथ ही अंतर्राष्ट्रीय बाईकर्स द्वारा फ्री स्टाइल मोटोक्रास का शानदार प्रदर्शन देखने को मिला। इस प्रतियोगिता के विभिन्न रेस में छत्तीसगढ़ के प्रतिभागियों के लिए भी विशेष श्रेणी रखी गई है, जिसमें केवल छत्तीसगढ़ के बाईकर को अवसर मिला है। इस प्रतियोगिता में कुल 08 वर्गों में रेस आयोजित है। इन रेसिंग प्रतियोगिता के मध्य फ्री स्टाइल मोटो कास का प्रदर्शन विदेशी बाईकर के द्वारा किया गया, जो आप सब में रोमांच भर दिया। उबड़-खाबड़ रास्तों पर विदेशी एवं महंगी बाईको से राईडरों द्वारा छत्तीसगढ़ में अपने जौहर का प्रदर्शन किया है, जो सराहनीय है। मैं स्वयं बाईक राईडिंग का शैकिन रहा हूँ और आज भी आवश्यकता पड़ने पर बाईक से घूमना पसंद करता हूँ। उन्होंने छत्तीसगढ़ मोटर स्पोर्ट्स एसोसिएशन द्वारा छत्तीसगढ़ प्रदेश में साहसिक आयोजन के लिए बधाई एवं शुभकामनाएं दी।

इस अवसर पर उच्च शिक्षा तथा खेल एवं युवा कल्याण मंत्री उमेश पटेल, सांसद छाया वर्मा, अध्यक्ष छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मंडल कुलदीप जुनेजा, महापौर एजाज ढेबर, अध्यक्ष छत्तीसगढ़ राज्य महिला आयोग किरणमयी नायक, रायपुर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष सुभाष धुप्पड़, नगर निगम के सभापति प्रमोद दुबे, मुख्यमंत्री के सलाहकार प्रदीप शर्मा, मुख्य सचिव अमिताभ जैन, अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू तथा अन्य जनप्रतिनिधि और खेल प्रेमी बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें