CM उद्धव ठाकरे ने किया रामलला के दर्शन, राम मंदिर निर्माण के लिए किया 1 करोड़ का ऐलान

लखनऊ। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने शनिवार को सरकार के 100 दिन पूरे होने पर अयोध्या पहुंचे। इस दौरान उन्होंने भगवान रामलला के दर्शन किए। इसके बाद उन्होंनें एक प्रेस कान्फ्रेंस की। इस प्रेस कान्फ्रेंस में उन्होंने राम मंदिर के निर्माण के लिए 1 करोड़ रुपये देने का एलान किया है।

मीडिया से मुखातिब होते हुए उद्धव ने कहा मैं बार- बार अयोध्या आऊंगा। हमने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ से मंदिर के पास ही थोड़ी जमीन की मांग की है। जमीन मिलने पर अयोध्या में महाराष्ट्र का निर्णाण करेंगे।

उन्होंने यह भी कहा कि सरयू नदी आरती में शामिल होने की इच्छा थी, लेकिन कोरोना वायरस की वजह से नहीं जा सकता, लेकिन वह अयोध्या का दौरा जारी रखेंगे।

उद्धव ठाकरे ने कहा कि साल 2018 के नवंबर महीने में ‘’मैं पहली बार नवंबर 2018 में अयोध्या आया था और अगली बार नवंबर में ही मुख्यमंत्री बन गया। मैं यहां तीसरी मर्तबा आया हूं और आगे भी आता रहूंगा।

शुक्रवार को ठाकरे की सरकार के 100 दिन पूरे हुए। शिवसेना के नेतृत्व वाली महागठबंधन (एमवीए) सरकार के मुख्यमंत्री के रूप में उन्होंने पिछले साल 28 नवंबर को सत्ता संभाली थी, जब शिवसेना ने राकांपा और कांग्रेस से हाथ मिला लिया था।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे अपनी सरकार के 100 दिन पूरे होने पर शनिवार अयोध्या में रामलला का दर्शन करने पहुंचे। इस दौरान उनके साथ उनकी पत्नी तथा सामना की संपादक रश्मि ठाकरे और बेटे आदित्य ठाकरे भी मौजूद हैं।

उद्धव ठाकरे का विरोध करने वाले संतों, महंतों व हिंदू महासभा के जिला अध्यक्ष राकेशधर मिश्रा को उनके आवासों पर ही नजरबंद कर दिया गया है। सभी के आवासों के बाहर पुलिस तैनात है। हिंदू महासभा के महंत परशुराम दास भी नजरबंद किए गए हैं।

तपस्वी छावनी के संत परमहंस को उनके आश्रम में नजरबंद किया गया है। इसके साथ ही हनुमानगढ़ी के महंत राजू दास को भी नजरबंद किया गया है। ये सभी महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के अयोध्या दौरे के विरोध की घोषणा की थी। इन्होंने काला झंडा दिखाने का ऐलान भी किया था।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें