COVID-19: भारत ने तुर्की समेत 33 देशों के हवाई यात्रियों की एंट्री पर लगाया रोक

नई दिल्ली। दुनियाभर में कोरोना वायरस के हजारों मामले अब तक सामने आने के बाद भारत सरकार ने कोरोना के इन्फैक्टेड लोगों को रोकने के प्रयास के तहत 22 यूरोपीय देश और तुर्की से आ रहे हवाई यात्रियों की एंट्री सोमवार को बैन लगाने का ऐलान किया है।

जिन देशों के हवाई यात्रियों की भारत में एंट्री 18 से 31 मार्च तक बैन की गई हैं, उनमें- यूरोपीय यूनियन, यूरोपीय फ्री ट्रेड एसोसिएशन के सदस्य- आइसलैंड, नॉर्वे एंड स्वीस कन्फेडरेशन, ब्रिटेन और तुर्की शामिल हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा- ऐहतियाती उपाय के तौर पर ट्रैवल एडवाइजरी को कड़ी कर दी गई है। इन देशों के यात्रियों पर पूरी तरह से प्रतिबंध बुधवार यानि 18 मार्च की शाम पांच बजे से लागू हो जाएगा।

केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने यह भी कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण के चार नए मामले… ओडिशा, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख और केरल… आए हैं। इसके साथ ही सोमवार को देश में इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 114 हो गयी। इनमें दो लोगों की मौत, इलाज के बाद स्वस्थ हो चुके तीन लोग और अस्पताल से छुट्टी पा चुके 10 लोग भी शामिल हैं।

मंत्रालय के अधिकारियों ने संवाददाताओं से बताया कि मंत्री समूह की बैठक के बाद सरकार ने 31 मार्च तक लोगों को सामाजिक दूरी बनाए रखने की सलाह दी है। उन्होंने बताया कि संक्रमित लोगों के संपर्क में आने वाले लोगों का पता लगाने के क्रम में अभी तक 5,200 से ज्यादा लोगों का पता चला है। उन सभी पर नजर रखी जा रही है।

मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा, ”यूरोपीय संघ के सदस्य देशों, यूरोपीय मुक्त व्यापार एसोसिएशन, तुर्की और ब्रिटेन से भारत आने वाले यात्रियों की यात्रा पर 18 मार्च, 2020 से प्रतिबंध लगाया जाता है। उन्होंने कहा, ”कोई भी विमानन कंपनी उक्त देशों के यात्रियों को 18 मार्च, 2020 दोपहर 12 बजे (मानक समयानुसार) के बाद अपनी उड़ानों में ना बैठाए। विमानन कंपनियां इस पाबंदी को उड़ान शुरू होने के स्थान पर ही लागू करें। उन्होंने कहा कि दोनों निर्देश अस्थाई कदम हैं और फिलहाल 31 मार्च, 2020 तक प्रभावी रहेंगे। फिर इनकी समीक्षा की जाएगी।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें