देश को धोखा देने के आरोप में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की मुश्किलें बढ़ीं, स्पीकर पेलोसी ने किया महाभियोग लाने का ऐलान

नई दिल्‍ली। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की मुश्किलें बढ़ा सकती हैं। अमेरिकी प्रतिनिधि सभा के अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी ने डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग लाने की घोषणा की है. वहीं, व्हाइट हाउस ने बुधवार को कहा कि हाउस ज्यूडिशियरी कमेटी द्वारा डोनाल्ड ट्रम्प के खिलाफ महाभियोग की सुनवाई का पहला दिन यूएस के राष्ट्रपति के लिए अच्छा और डेमोक्रेटिक पार्टी के सदस्यों के लिए खराब रहा।

डोनाल्ड ट्रंप पर आरोप है कि उन्होंने 2020 के राष्ट्रपति चुनाव में संभावित प्रतिद्वंद्वी जो बिडेन की छवि खराब करने के लिए यूक्रेन से मदद मांगी, जो गैरकानूनी है।अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने 27 नवंबर को एक रैली को संबोधित करते हुए कहा था, महाभियोग जांच मुझे जबरन निशाना बनाकर की जा रही है।इसकी मैं आलोचना करता हूं।

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की से संपर्क को लेकर डोनाल्‍ड ट्रंप ने कहा था कि उनसे बेहतरीन बातचीत हुई थी। डेमोक्रेट नेता देश को बांटने की कोशिश कर रहे हैं। वे (डेमोक्रेट्स) महाभियोग के जरिए निशाना बना रहे हैं और काफी बुरी चीजें उनके साथ हो रही हैं. आप देख रहे है कि चुनाव में क्या हो रहा है? हर कोई कह रहा है कि ‘यह बकवास है।

बुधवार को सुनवाई के दौरान स्टैनफोर्ड लॉ कॉलेज की प्रोफेसर पामेला एस कार्लन ने ट्रम्प के 13 वर्षीय बेटे बैरन का नाम लिया, जिसकी प्रथम महिला मेलानिया ट्रम्प ने कड़ी आलोचना की. इसे लेकर कार्लन ने बाद में माफी मांगी. चार में से तीन कानूनी विशेषज्ञों ने बुधवार को सांसदों को बताया कि यूक्रेन से ट्रम्प की बातचीत उनके कार्यालय द्वारा सत्ता के दुरुपयोग को दर्शाती है और यह महाभियोग चलाए जाने योग्य है.

रिपब्लिकन पार्टी द्वारा आमंत्रित चौथे कानूनी विशेषज्ञ ने पैनल के अन्य डेमोक्रेटिक समर्थक सदस्यों की दलील का विरोध करते हुए कहा कि डोनाल्ड ट्रम्प ने कुछ गलत नहीं किया। व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव स्टेफनी ग्रिशम ने कहाल कि (हाउस ज्यूडिशियरी कमेटी) अध्यक्ष (जेरोल्डा) नाडलर के समक्ष सुनवाई में तीनों लिबरल प्रोफेसरों ने केवल यह बात स्थापित की कि वे राष्ट्रपति के खिलाफ राजनीतिक पूर्वाग्रह से ग्रस्त हैं।

उन्होंने आगे कहा कि इस प्रक्रिया के तहत सुनवाई के बावजूद सच्चाई यही है कि राष्ट्रपति ने कुछ गलत नहीं किया। कांग्रेस को वापस अमेरिकी लोगों के लिए काम करना शुरू करना चाहिए। ग्रिशम ने कहा है कि अमेरिका-मेक्सिको-कनाडा व्यापार समझौता और बुनियादी ढांचे से जुड़े मामले अध्यक्ष पेलोसी की कार्रवाई का इंतजार कर रहे हैं। इसके बाद भी प्रतिनिधि सभा के डेमोक्रेटिक सदस्य इस प्रक्रिया पर ध्यान केंद्रित करके अपने निर्वाचन क्षेत्रों को नजरअंदाज कर रहे हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें