हिजबुल आतंकियों के साथ गिरफ्तार निलंबित DSP गद्दार दविंदर सिंह से छीना गया ‘शेर-ए-कश्मीर’ का पदक

नई दिल्ली। हिजबुल आतंकियों के साथ गिरफ्तार किए गए पुलिस उपाधीक्षक दविंदर सिंह को दिया गया ‘शेर-ए-कश्मीर’ का पदक छीन लिया गया है। जम्मू-कश्मीर सरकार ने निलंबित पुलिस अधिकारी से यह पदक वापस ले लिया है। इसको लेकर स्थानीय सरकार ने आदेश जारी कर दिए हैं।

जम्मू-कश्मीर के पुलिस प्रमुख दिलबाग सिंह ने बुधवार को कहा था कि हिजबुल मुजाहिदीन के दो आतंकवादियों के साथ गिरफ्तार किए गए पुलिस उपाधीक्षक (DSP) दविंदर सिंह को बर्खास्त करने और यह मामला राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) को सौंपने की सिफारिश की गई है।

उन्होंने कहा था कि पुलिस ने 2018 में स्वतंत्रता दिवस पर जम्मू-कश्मीर राज्य द्वारा सिंह को दिए गए वीरता पदक को वापस लेने की भी सिफारिश की है। उन्होंने जोर दिया कि पुलिस सख्त कार्रवाई करेगी क्योंकि हम ऐसे लोगों को आश्रय या सुरक्षा देने में विश्वास नहीं करते हैं जिनकी बल, राष्ट्र और अपने लोगों के प्रति कोई निष्ठा नहीं है।

वहीं, जांच के बीच एनआईए के महानिदेशक वाईसी मोदी ने बुधवार (15 जनवरी) को गृह सचिव अजय कुमार भल्ला से मुलाकात की है। माना जा रहा है कि उन्होंने पूरे मामले में जांच की प्रगति को लेकर गृहसचिव को जानकारी दी है।

अधिकारियों का कहना है कि दविंदर सिंह मामले में सरकार का रुख बेहद सख्त है। NIA को सभी पहलुओं की विस्तार से जांच करने को कहा गया है जिससे गिरफ्तार DSP के कारनामों का कच्चा चिठ्ठा खोला जा सके। अभी NIA इस मामले पर कुछ भी कहने से बच रही है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें