PM मोदी ने CEOs संग की बैठक, प्रधानमंत्री उद्योग जगत के कई सीईओ से मिले, बजट से पहले फीडबैक लिया

नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को अपने आधिकारिक आवास पर उद्योग जगत के विभिन्न क्षेत्रों की कंपनियों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों (CEO) के साथ बातचीत की। अगले केंद्रीय बजट से पहले प्रधानमंत्री और उद्योग जगत के प्रतिनिधियों के बीच यह दूसरी ऐसी बातचीत थी।

प्रधानमंत्री कार्यालय के मुताबिक, “प्रधानमंत्री ने देश की अंतर्निहित ताकत के बारे में बात की, जो कोविड के खिलाफ लड़ाई के दौरान प्रदर्शित हुई। उन्होंने उद्योग जगत के नेताओं को उनके इनपुट और सुझावों के लिए धन्यवाद दिया और उन्हें पीएलआई प्रोत्साहन जैसी नीतियों का पूरा उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित किया।”

“उन्होंने कहा कि जिस तरह देश ओलंपिक में पोडियम फिनिश करने की इच्छा रखता है, देश हमारे उद्योगों को भी दुनिया के शीर्ष पांच में देखना चाहता है और यह कुछ ऐसा है, जिसके लिए हमें सामूहिक रूप से काम करना चाहिए।”

इसके अलावा, प्रधानमंत्री ने कहा कि कॉर्पोरेट क्षेत्र को कृषि और खाद्य प्रसंस्करण जैसे क्षेत्रों में अधिक निवेश करना चाहिए और प्राकृतिक खेती पर ध्यान केंद्रित करने के बारे में बात की।

“उन्होंने सरकार की नीतिगत स्थिरता को रेखांकित किया, और कहा कि सरकार ऐसी पहल करने के लिए ²ढ़ता से प्रतिबद्ध है जो देश की आर्थिक प्रगति को गति प्रदान करेगी।”

बयान में कहा गया, “उन्होंने अनुपालन बोझ को कम करने की दिशा में सरकार के फोकस के बारे में भी बात की और उन क्षेत्रों पर सुझाव मांगे जहां अनुचित अनुपालन को हटाने की जरूरत है।” इसमें कहा गया है कि उद्योग जगत के प्रतिनिधियों ने अपनी ओर से प्रधानमंत्री को फीडबैक दिया।

“उन्होंने उन कदमों के बारे में बात की जो देश में ‘ईज ऑफ डूइंग बिजनेस’ को और बढ़ावा देने के लिए उठाए जा सकते हैं। उन्होंने ‘सीओपी26’ में भारत की प्रतिबद्धताओं के बारे में भी बात की और बताया कि उद्योग कैसे उल्लिखित लक्ष्यों को प्राप्त करने में योगदान दे सकता है।”

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें