दिल्ली हिंसा प्रभावित इलाकों का राहुल गांधी ने किया दौरा, कहा- नफरत और हिंसा से हुआ भारत माता को नुकसान

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं एवं सांसदों का एक प्रतिनिधिमंडल ने राहुल गांधी के नेतृत्व में बुधवार को दिल्ली के हिंसा प्रभावित इलाकों का दौरा किया। राहुल गांधी और अन्य कांग्रेस नेता उत्तर पूर्वी दिल्ली के हिंसा प्रभावित इलाकों के लिए रवाना हुए। उनके साथ केसी वेणुगोपाल और अधीर रंजर चौधरी भी मौजूद रहे। बृजपुरी में एक स्कूल का दौरा करने के बाद राहुल गांधी ने कहा कि यह स्कूल दिल्ली का भविष्य है। घृणा और हिंसा ने इसे नष्ट कर दिया है। इस हिंसा से भारत माता को कोई फायदा नहीं है। इस समय सभी को मिलकर काम करना होगा और भारत को आगे ले जाना होगा।

राहुल ने आगे कहा कि इस हंसा से देश की छवि को नुकसान हो रहा है। उन्होंने कहा कि देश को बांटा जा रहा, जलाया जा रहा है। कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल दिल्ली के बृजपुरी और चांदबाग इलाके का दौरा करेगी। उत्तर-पूर्वी दिल्ली के कई इलाकों में पिछले दिनों भड़की हिंसा में 40 से अधिक लोगों की मौत हो गई और 200 से ज्यादा लोग घायल हो गए।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं एवं सांसदों के साथ दिल्ली के हिंसा प्रभावित इलाकों का दौरा किया और कहा कि हिंसा से लोगों और भारत माता का कोई फायदा नहीं हुआ, बल्कि देश की प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचा है। गांधी की अगुवाई में कांग्रेस नेताओं केशिष्टमंडल ने पहले बृजपुरी इलाके के अरूण मॉडर्न सीनियर सेंकेंडरी स्कूल का दौरा किया जिसमें पिछले दिनों भड़की हिंसा के दौरान आग लगा दी गई थी। इसके बाद गांधी और कांग्रेस नेता निकट की एक मस्जिद भी गए जिसे हिंसा के दौरान निशाना बनाया गया था। सूत्रों के मुताबिक गांधी इससे आगे भी जाना चाहते थे, लेकिन पुलिस प्रशासन ने अनुमति नहीं दी और उन्हें लौट जाने का सुझाव दिया। इसके बाद गांधी और दूसरे नेता वापस लौट गए। स्कूल का दौरा करने के बाद गांधी ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘यह स्कूल भारत का भविष्य है। इसे जलाने से किसी को फायदा नहीं हुआ। हिंदुस्तान को जलाया जा रहा है, उससे किसी को फायदा नहीं हुआ। इससे भारत माता और लोगों का कोई फायदा नहीं होगा।’’ गांधी ने कहा, ‘‘सभी को मिलकर काम करना होगा। सबको साथ जोड़कर हिंदुस्तान को आगे बढ़ाया जा सकता है। भाईचार, एकता प्यार हमारी ताकत है। उसे यहां जलाया गया है। दुनिया में जो हमारी प्रतिष्ठा है, उसे यहां जलाया गया है।’’

गांधी की अगुवाई में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं एवं सांसदों के एक प्रतिनिधिमंडल ने बुधवार को दिल्ली के हिंसा प्रभावित इलाकों का दौरा किया। इस प्रतिनिधिमंडल में गांधी के अलावा पार्टी के वरिष्ठ नेता केसी वेणुगोपाल, अधीर रंजन चौधरी, कुमारी शैलजा और मुकुल वासनिक, मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला, सांसद के. सुरेश और गौरव गोगोई तथा कुछ अन्य नेता शामिल हैं।कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ‘‘ राहुल जी व कांग्रेस सांसदों ने दिल्ली के दंगाग्रस्त इलाक़ों का दौरा किया। दिल्ली व देश के सीने पर लगे ज़ख्मों के दर्द को महसूस किया। राहुल जी ने भीष्म शर्मा के स्कूल में न्याय की गुहार लगाते हुए कहा की ये भारतमाता के बच्चों पर दहशतगर्दों का हमला है। इसे देश कभी स्वीकार नही करेगा।’’ कांग्रेस सांसदों के एक अन्य प्रतिनिधिमंडल ने भी हिंसा प्रभावित इलाकों में भजनपुरा, खजूरी खास, चांद बाग और करावलनगर का दौरा किया तथा पीड़ितों से बातचीत की। इस प्रतिनिधिमंडल में शामिल कांग्रेस सांसद अब्दुल खालिक ने कहा, ‘‘उत्तर-पूर्वी दिल्ली के कई इलाकों में पिछले दिनों भड़की हिंसा में 40 से अधिक लोगों की मौत हुई थी और 200 से ज्यादा लोग घायल हुए थे।’’

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें