जापान में तेजी से फैलते कोरोना वायरस संक्रमण के चलते PM आबे ने की आपातकाल की घोषणा

नई दिल्ली। जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने देश में कोरोना वायरस के संक्रमण के मामलों में तेजी से वृद्धि होने के बाद मंगलवार को तोक्यो और देश के छह अन्य हिस्सों में एक महीने के लिए आपातकाल की घोषणा की।

आबे ने मंगलवार को कहा, ‘‘ऐसे हालात बन रहे हैं जो लोगों के जीवन और अर्थव्यवस्था को बुरी तरह प्रभावित कर रहे हैं। मैं आपातकाल की घोषणा करता हूं।’’ यह कदम दुनिया के विभिन्न देशों में लागू लॉकडाउन से कुछ कम सख्त है लेकिन स्थानीय गवर्नरों को लोगों से घरों में रहने और उद्योगों को बंद करने के लिए कहने का अधिकार देता है।

आबे ने कहा कि सरकार का यह कदम लोंगों से घरों में रहने के अनुरोध के रूप में आया है और यह आदेश नहीं है। इसका उल्लंघन करने वालों को दंडित नहीं किया जाएगा। घोषित आपातकाल छह मई तक के लिए है। आबे ने एक सरकारी कायर्बल से कहा कि हम में से हर एक के लिए अपनी गतिविधियों को बदलना सबसे महत्वपूर्ण है। उन्होंने सभी से अपने संपर्कों में एक महीने के लिए 70-80 प्रतिशत तककमी लाने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि कोरोनो वायरस महामारी विश्व युद्ध के बाद का सबसे बड़ा संकट है। जापान में कोरोना वायरस के कारण अब तक 91 लोगों की मौत हो चुकी है और कुल 3,906 मामले सामने आए हैं। इसके अलावा योकोहामा बंदरगाह पर एक क्रूज पोत पर 712 मामले सामने आए थे और 11 लोगों की मौत हो गयी थी।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें