कोविड -19 : WHO ने दी चेतावनी, आने वाली है ओमिक्रॉन, डेल्टा मामलों की सुनामी

जिनेवा । विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने आगाह किया है कि वर्तमान में संक्रामक डेल्टा वेरिएंट के साथ ओमिक्रॉन राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्रणालियों पर अत्यधिक दबाव डालते हुए ‘मामलों की सुनामी’ की वजह बन सकता है। कोविड -19 महामारी की शुरूआत के बाद से डब्ल्यूएचओ की प्रतिक्रिया को दोहराते हुए, डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक ट्रेडोस एडनॉम घेब्येयियस ने बुधवार को एक प्रेस ब्रीफिंग में कहा कि वह अत्यधिक चिंतित हैं कि ओमिक्रॉन अधिक संक्रामक है, यह तेजी से फैलने वाला है।

उन्होंने कहा कि यह स्वास्थ्य कार्यकर्ताओ और स्वास्थ्य प्रणालियों पर भारी दबाव डालेगा और फिर से जीवन और आजीविका को बाधित करेगा। उन्होंने कहा, दबाव का हवाला देते हुए कहा कि न केवल नए कोविड -19 रोगियों को अस्पताल में भर्ती होने की आवश्यकता है, बल्कि कई स्वास्थ्यकर्मी खुद बीमार हो रहे हैं।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, ट्रेडोस ने हाल के एक बयान पर अपनी चिंता दोहराई कि ओमिक्रॉन हल्के या कम गंभीर बीमारियों का कारण बन रहा है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें