Cyclone Jawad: ओडिशा पर मंडराया चक्रवात ‘जवाद’ का खतरा, Red Alert जारी

नई दिल्ली। ओडिशा पर एक बार फिर से चक्रवाती तूफान का खतरा मंडरा रहा है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने कहा कि दक्षिण अंडमान सागर में एक लो प्रेशर एरिया बन रहा है। जो कि एक बहुत जल्द एक डिप्रेशन में बदलेगा और 4 दिसंबर को एक चक्रवाती तूफान का रूप धारण करके ओडिशा की ओर बढे़गा। इस वजह से ओडिशा और उसके आस-पास के राज्यों में भारी वर्षा होने के आसार हैं। आईएमडी ने यहां Red Alert जारी किया है, इस तूफान का नाम ‘जवाद’ है।

चक्रवात ‘जवाद’ का ओडिशा तट पर सुबह, हवा 80 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से 90 किमी प्रति घंटे तक पहुंचने की संभावना है।आईएमडी के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र ने कहा कि ‘जवाद’ अभी राज्य में कहां पहुंचेगा,इस बारे में अभी साफ तौर पर कुछ कहा नहीं जा सकता है, अवसाद बनने के बाद ही हम तट को पार करने वाले चक्रवात के पथ और स्थान और उसकी तीव्रता का अनुमान लगाने की स्थिति में होंगे।”

लेकिन ओडिशा में बारिश की तीव्रता शनिवार से बढ़ेगी क्योंकि तटीय जिलों और आंतरिक जिलों में भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है। आईएमडी ने गजपति, गंजम, पुरी और जगतसिंहपुर जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी किया है जबकि केंद्रपाड़ा, कटक, खुर्दा, नयागढ़, कंधमाल, रायगड़ा और कोरापुट जिलों में शनिवार को ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

अनुमान के मुताबिक ‘जवाद’ जिस वक्त ओडिशा के तट से टकराएगा, उस वक्त हवा की गति 117 किमी प्रति घंटे तक हो सकती है।इसके अलावा इसके कारण आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल में भी भारी बारिश होगी और वहां भी अलर्ट जारी किया गया है।

जहां ओडिशा में चक्रवात की आशंका है, वहीं दूसरी ओर पश्चिमी विक्षोभ के चलते आज और कल दिल्ली, हिमाचल और यूपी-बिहार में भी हल्की बारिश के आसार है, जबकि कश्मीर, लद्दाख और उत्तराखंड में भारी बारिश और बर्फबारी की आशंका बनी हुई है। अगले 24 घंटों के दौरान गुजरात , कोंकण,महाराष्ट्र, केरल, तमिलनाडु, कर्नाटक के महाराष्ट्र, राजस्थान और हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश के आसार दिख रहे हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें