दिल्ली हिंसा को सोनिया गांधी ने दिया साजिश करार, मांगा गृह मंत्री अमित शाह का इस्तीफा

नई दिल्ली। उत्तर पूर्वी दिल्ली में संशोधित नागरिकता कानून (CAA) को लेकर भड़की साम्प्रदायिक हिंसा में मरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 20 पर पहुंच गई है। इस हिंसा को लेकर राजनीति गर्म हो गई है। कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी ने आज कहा कि दिल्ली हिंसा पर CWC की आपात बैठक हुई। उन्होंने इस हिंसा और दुखद घटनाओं के पीछे साजिश करार दिया। सोनिया ने आरोप लगाया कि दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान भी साजिश देखी गई, भाजपा नेताओं ने भड़काऊ भाषण देकर भय का माहौल बनाया। दिल्ली में मौजूदा हालात के लिए केन्द्र सरकार, गृह मंत्री और दिल्ली सरकार जिम्मेदार है।

सोनिया ने कहा कि केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह को दिल्ली में हिंसा के लिए जिम्मेदारी लेते हुए इस्तीफा देना चाहिए। दिल्ली सरकार और मुख्यमंत्री भी शांति बनाए रखने में नाकाम रहे, सीडब्ल्यूसी का मानना है कि स्थिति गंभीर है, तत्काल कार्रवाई की आवश्यकता है। स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पर्याप्त बल तैनात किया जाना चाहिए, मोहल्लों में शांति समितियों का गठन किया जाना चाहिए।

दिल्ली के मुख्यमंत्री को प्रभावित इलाकों में जाना चाहिए और लोगों के साथ लगातार संवाद करना चाहिए। सीडब्ल्यूसी लोगों से घृणा की राजनीति को अस्वीकार करने और दरारें भरने के लिए बेहतर कदम उठाने की अपील करती है। सोनिया ने सवाल किया कि रविवार से गृहमंत्री शाह और केजरीवाल कहां थे, क्या कर रहे थे?

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें