गरीब कल्याण रोजगार अभियान: PM ने कहा- भारत के गांवों ने जिस तरह कोरोना का मुकाबला किया है वह शहरों के लिए सबक है, गांव में सस्ता और तेज इंटरनेट जरूरी

नई दिल्ली। ग्रामीण भारत में रोजगार मुहैया कराने के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने शनिवार 20 जून को बिहार के खगड़िया से इसकी शुरुआत कर दी। दिल्ली में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इस अभियान को PM ने रिमोट द्वारा बिहार के खगड़िया जिले के ब्लॉक बेलदौर के गांव तेलिहार से लॉन्च किया। 125 दिनों तक चलने वाले गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत देश के 116 जिलों में गांव वापस पहुंचे कम से कम हर जिले में 25000 प्रवासी मजदूरों को रोजगार दिया जाएगा। इसके तहत अब गांव में ही 25 तरह के इंफ्रास्ट्रक्चर से जुड़े काम दिए जाएंगे, जिसके लिए 50 हजार करोड़ रुपए का बजट एलोकेट किया गया है।

उत्तर प्रदेश के उन्नाव की खबर का जिक्र करते हुए कहा कि इस काम की प्रेरणा प्रवासी मजदूरों से ही मिली। गांव के सरकारी स्कूल में बने क्वारंटाइन सेंटर को प्रवासी मजदूरों ने आगे बढ़कर उसकी रंगाई-पुताई करके उसकी काया पलट कर दी। PM ने कहा कि क्वारंटाइन में रह रहे मजदूरों का यह काम मुझे बहुत प्रेरित किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि शहरों की तरह ही गांव में सस्ता और तेज इंटरनेट जरूरी है। हर गांव में पंचायत भवन बनेंगे। गांवों में इंटरनेट की स्पीड बढ़ाने के लिए भी काम होगा क्योंकि पहली बार शहरों से ज्यादा गांवों में इंटरनेट का इस्तेमाल हो रहा है।

लॉन्चिग के बाद PM ने कहा कि कोरोना संकट के साथ राज्य सरकार हो या केंद्र सरकार को आपकी चिंता थाी। भारत के गांवों ने जिस तरह कोरोना का मुकाबला किया है वह शहरों के लिए सबक है। 85 प्रतिशत आबादी वाले गांवों के लोगों ने कोरोना के संक्रमण को बहुत प्रभावी तरीके से रोका है। पीएम ने कहा कि आप इस प्रशंसा के हकदार हैं। उन्होंने कहा कि आपके इस पराक्रम पर कोई आपकी पीठ थपथपाए या न थपथपाए, मैं जरूर थपथपाउंगा।

वहीं एक प्रवासी महिला की लॉकडाउन के दौरान दिल्ली से गांव वापसी के बारे में पूछा। महिला ने मधुमक्खी पालन का काम करने की इच्छा जाहिर की तो वो बहुत खुश हुए। उन्होंने पूछा कि मेरे से कोई शिकायत हो तो बताएं। हरियाणा के गुरुग्राम में राजमिस्त्री का काम करने वाले जनार्दन लॉकडाउन के दौरान गांव लौटे हैं। पीएम से बात करते हुए उन्होंने श्रमिक ट्रेन की तारीफ करते हुए कहा कि सुविधा बहुत अच्छी थी। जनार्दन ने कहा कि गांव में बहुत काम मिल रहा है। वहीं राजस्थान के अजमेर से लौटे चंदन से PM ने पूछा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का लाभ मिला क्या? जनार्दन ने बताया कि फ्री राशन मिला तो परिवार की गाड़ी आगे चली।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें