प्रधानमंत्री मोदी ने साल 2019 के ”आखिरी मन की बात” कार्यक्रम में क्या कुछ कहा, यंहा…… पढ़े ?

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज ‘मन की बात’ रेडियो प्रोग्राम के द्वारा देश को संबोधित किया। PM मोदी का ये इस साल का आखिरी मन की बात रेडियो प्रोग्राम था। इस कार्यक्रम में PM मोदी ने कई मुद्दों पर बात की।  इसी के साथ पीएम ने नए साल की जनता को शुभकामनाएं भी दीं। PM मोदी ने इस कार्यक्रम में कई बड़ी बातें की जिसमें सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण बात ये रही कि PM ने नौजवानों को आगे बढ़ कर देश की सेवा करने और स्थानीय सामानों को खरीदने पर जोर दिया।

पिछली बार PM मोदी ने अयोध्या के राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट के दिए फैसले के बारे में बात की थी।  उन्होंने देशवासियों के द्वारा इस फैसले को स्वीकार किए जाने पर उनका धन्यवाद किया था। PM मोदी ने कहा था कि 130 करोड़ भारतीयों ने फिर यह साबित कर दिया कि उनके लिए देशहित से बढ़कर कुछ भी नहीं है।

महात्मा गांधी ने स्वदेशी की इस भावना को एक ऐसे दीपक के रूप में देखा जो लाखों के जीवन को रोशन करता हो।

युवा सिस्टम फॉलो करना चाहता है-पीएम मोदी

PM मोदी ने इस मन की बात कार्यक्रम में सबसे बड़ी बात ये कही कि देश का युवा कलह से दूर रहना चाहता है, वो आगे बढ़ना चाहता है। युवा सिस्टम को फॉलो करना चाहते हैं और हिम्मत के साथ सिस्टम को सवाल भी करते हैं। PM मोदी ने कहा कि देश के युवाओं को अव्यवस्था, अराजकता, अव्यस्था, अस्थिरता के प्रति चिढ़ है वे परिवार वाद अपना पराया जातिवाद जैसे मुद्दों से बड़ी चिढ़ है। PM ने कहा कि आज देश को इन्हीं युवाओं ने बड़ी उम्मीदे हैं।

PM मोदी ने जनवरी में मकर संक्रांति, पोंगल, लोढ़ी त्योहार मनाए जाएंगे। PM मोदी ने कहा कि संत तिरवल्लव की जयंति मनाने की बात भी की है।
PM मोदी ने कहा कि दूर तक चलना है बहुत कुछ करना है, देश को नई ऊंचाईयों पर पहुंचाना है।

PM मोदी ने कहा कि हमें स्टार गेजिंग को एक आर्ट के रूप में विकसित करना चाहिए। PM ने कहा कि हमारे संसद को लोकतंत्र का मंदिर करते हैं। PM मोदी ने कहा कि 70वीं लोक सभा ने 114 फीसदी काम किया तभी राज्य सभा ने 94 फीसदी काम किया है। PM मोदी ने कहा कि आपके द्वारा चुने गए प्रत्याशियों ने 60 साल से अब तक का सबसे ज्यादा काम किया है।

PM मोदी ने कहा कि मालम की डायरी के पुस्तक का विमोचन किया है। जिसमें प्राचीन नेविगेशन का विवरण है और इसमे तारों की गति का भी वर्णन है। PM मोदी ने कहा भारत एस्ट्रोनॉमी के क्षेत्र में काफी आगे है।

PM मोदी ने कहा देवस्थल नाम का टेलिस्कोप है जिसका उन्होंने ही उद्घाटन किया था। PM मोदी ने कहा कि भारत के वैज्ञानिक सूर्य के ऊपर भी रिसर्च कर रहे हैं।

PM मोदी ने एस्ट्रोनॉमी पर की बात

PM मोदी ने एक ट्विटर मैसेज की बात भी की। PM ने कहा कि एस्ट्रोनॉमी को देश में कैसे पॉपुलर किया जा सकता है, इस पर PM को बात करने का एक संदेश मिला था। PM ने कहा कि 26 दिसंबर को सूर्य ग्रहण पर उत्साह था लेकिन दिल्ली में आसमान में बादल छाने के वजह से मैं कुछ भी नहीं देख पाया लेकिन उन्होंने टीवी पर देखा।

PM मोदी ने कहा कि ग्रहण हमें ये याद दिलाता है कि हम पृथ्वी पर रहते हुए अंतरिक्ष में घूम रहे हैं। आकाश के तारों के संबंध हमारा संबंध उतना ही पुराना है जितना हमारी सभ्यता है।

हिमायत के जरिये फियाज एहमद भी अब पंजाब में कार्यरत हैं। PM ने कहा कि इस कार्यक्रम ने जम्मू कश्मीर के आगे बढ़ने में काफी मदद की है।

हिमायत प्रोग्राम की तारीफ की

PM ने जम्मू कश्मीर के हिमायत प्रोग्राम की खूब तारीफ की। जिसमें इस कार्यक्रम के तहत 18000 लोगों को स्किल डेवलेपमेंट की ट्रेनिग मिली।  उन्होंने कहा कि करगिल के एक छोटे से गांव में रहने वाली परविन फातिमा ने आगे बढ़ कर दिखाया है जो तमिलनाडु के फार्म में काम कर रही है।

लोकल खरीदने पर दिया जोर

PM मोदी ने स्थानीय पुलिस को भी बड़ा सहारा जिन्होंने इन महिलाओं की चप्पल लेकर इनको आगे बढ़ाया। PM मोदी ने गांधी जी के स्वदेशी सामानों के उपयोग पर भी जोर दिया। PM ने कहा कि हम 2022 में आजादी के मौके पर हम देश के लिए मर मिटने वाले लोगों को नमन करते है। PM ने देश से आग्रह किया कि 2022 आजादी के 75 वर्ष तक स्वदेशी चीजें खरीदने का बीड़ा उठाना चाहिए और हम लोकल खरीदेंगे।

PM मोदी ने बिहार के भैरवगंज हेल्थ सेंटर की बात की जहां आस पास के लोगों की भीड़ जुट गई।  ये कदम संकल्प 95 ने एक एल्यूमिनाई मीट के तहत ये जिम्मा उठाया और बेतिया के कई सरकारी अस्पताल भी जुड़ गए। इसमें फ्री में दवाएं भी मिलती है। वहीं उत्तर प्रदेश की फूलपुर की महिलाओं ने परिवार और समाज के लिए भी किया। इन महिलाओं ने वीमेन्स सेल्फ हेल्प ग्रुप से जुड़ कर चप्पल बनाने का हुनर सीखा। अब यहां आधुनिक मशीनों से चप्पलें बन रही हैं और उन लोगों की आर्थिक हालत मजबूत हुई है।

एल्युमिनाइ मीट भी जरूरी-PM मोदी

PM मोदी ने कहा कि एल्युमिनाइ मीट भी जरूरी है ताकि आप लोगों से जुड़ सकें, यादों को ताजा करना इसका अलग आनंद है।  इसी के साथ अगर एल्युमिनाइ मीट कोई सार्थक उद्देश्य के साथ हो तो उसमें अलग ही रंग भर जाता है। PM मोदी ने कहा कि जहां आपकी जिंदगी बनी उसे आगे बढ़ाना भी अच्छी बात है।

PM मोदी ने 12 जनवरी को स्वामी विवेकानंद के जयंती के मौके पर युवाओं को आगे बढ़ने की प्रेरणा दी है। PM ने कहा कि कन्याकुमारी में स्वामी विवेकानंद का वो शल जहां स्वामी विवेकानंद के रॉक मेमोरियल जरूर जाना चाहिए।  इसी के साथ गुजरात के रण में भी आपको जाना चाहिए।

PM ने स्वामी विवेकानंद को आदर्श बनाने की बात कही

PM मोदी ने नये और प्रतिभाशाली और नए जनरेशन को जेड जेनरेशन या सोशल मीडिया जेनरेशन बताया है। PM मोदी ने कहा कि भारत को युवाओं से बड़ी उम्मीदें हैं। उन्होंने आगे बताया कि स्वामी विवेकानंद ने कहा था कि मेरा विश्वास युवा पीढ़ी में हैं। PM मोदी ने कहा कि युवावस्था जीवन का सबसे महत्वपूर्ण कालखंड होता है क्योंकि युवा सामर्थ्य से ही भारत आगे बढ़ेगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नए वर्ष पर दी बधाई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात रेडियो प्रोग्राम को संबोधित करना शुरू कर दिया है। PM मोदी ने मन की बात के 60वें एपिसोड में सबका स्वागत किया है। PM मोदी ने 2020 नए वर्ष पर शुभकामनाए दीं।

पिछली बार PM ने इन बातों पर दिया था जोर

पिछली बार PM मोदी ने अयोध्या के राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट के दिए फैसले के बारे में बात की थी। उन्होंने देशवासियों के द्वारा इस फैसले को स्वीकार किए जाने पर उनका धन्यवाद किया था। PM मोदी ने कहा था कि 130 करोड़ भारतीयों ने फिर यह साबित कर दिया कि उनके लिए देशहित से बढ़कर कुछ भी नहीं है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें