कोरोना काल में नौकरी गंवानें वालों को तीन महीने की सैलरी देगी मोदी सरकार

नई दिल्ली। कोरोना काल में नौकरी गंवाने वाले कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ECSI) के सदस्यों को बड़ी खुशखबरी मिली है। दरअसल, केंद्र सरकार नौकरी गंवाने वाले इन सदस्यों को तीन माह की सैलरी देगी।

एक रिपोर्ट में ये जानकारी दी गई है। केंद्रीय श्रम और रोजगार मंत्री भूपेंद्र यादव ने ये बात कही है। भूपेंद्र यादव ने कहा कि उनका मंत्रालय कोरोना के चलते जान गंवाने वाले ECSI सदस्यों के स्वजन को आजीवन वित्तीय मदद भी मुहैया कराएगा। हालांकि, श्रम मंत्री भूपेंद्र यादव ने इसके बारे में अभी विस्तार से कुछ नहीं बताया है।

भूपेंद्र यादव ने कहा कि हर राज्य में ‘लेबर कोड’ तैयार करने का काम चल रहा है। नए लेबर कोड के कार्यान्वयन की प्रक्रिया जारी है। ज्ञात हो कि श्रम से संबंधित 29 श्रम कानूनों को 4 कोड से बदल दिया गया है। इसके लागू होने के बाद कंपनियों में कामकाज से जुड़े नियमों में व्यापक बदलाव आएगा। ऐसा माना जा रहा था कि 1 अक्टूबर से इस कोड को लागू कर दिया जाएगा, लेकिन इंतजार बढ़ता जा रहा है।

भूपेंद्र यादव ने कहा कि सरकार का लक्ष्य ई-श्रम पोर्टल पर 38 करोड़ असंगठित श्रमिकों, जैसे निर्माण मजदूर, प्रवासी कार्यबल, स्ट्रीट वेंडर और घरेलू कामगारों को रजिस्टर्ड करना है। इसके लिए प्रयास जारी है। पोर्टल पर रजिस्टर्ड कामगार को एक ई-श्रम कार्ड जारी किया जाएगा। इस कार्ड में 12 अंकों का यूनिक नंबर होगा, जो आगे चलकर उन्हें सामाजिक सुरक्षा योजनाओं में शामिल करने में मदद करेगा।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें