POK में सेना की कार्रवाई की आर्मी चीफ रावत ने की पुष्टि, कहा- तबाह किए तीन कैंप, 6 से 10 सैनिक सहित कई आतंकियों को किये ढेर

नई दिल्ली। POK में भारतीय सेना द्वारा बड़ी कार्रवाई के बारे में सेना अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के तंगधार सेक्टर में पाकिस्तान की गोलीबारी के बाद पीओके में भारतीय सेना द्वारा जवाबी कार्रवाई में 6 से 10 सैनिक मारे गए। साथ ही कई आतंकियों को भी सेना ने ढेर किया है। रविवार शाम रावत ने कहा कि पाकिस्तान अपना नुकसान नहीं बताना चाहता। अगर पाकिस्तान एक्शन लेने की सोचेगा तो हमारा बहुत बड़ा रिएक्शन होगा। जनरल बिपिन रावत ने कहा कि जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 निरस्त करने के बाद से राज्य में शांति और सद्भाव में खलल डालने के लिए सीमा पार से आतंकवादियों द्वारा घुसपैठ के लगातार इनपुट मिल रहे हैं। धीरे-धीरे घाटी में हालात सामान्य हो रहे हैं, लेकिन जाहिर है कि पाक और POK में कुछ ऐसे आतंकी और एजेंसियां ​​हैं, जो लगातार सक्रिय होकर घुसपैठ की फिराक में थे।

पिछले 1 महीने से विभिन्न क्षेत्रों से आतंकवादियों की घुसपैठ के प्रयासों की जानकारी हमारे पास थी। कल शाम को तंगधार में आतंकवादियों की घुसपैठ की कोशिश की गई, तब हमने जवाबी कार्रवाई की, पाक ने हमारे पोस्ट पर हमला किया जिसमें कुछ नुकसान हुआ। लेकिन इससे पहले कि वे घुसपैठ की कोशिश कर पाते हमने उनके आतंकी शिविर को निशाना बनाया। जनरल रावत ने कहा कि अथमुकम, जूरा और कुंदलशाही में आतंकी कैंप को हमने तबाह कर दिया। इस कार्रवाई में 10 आतंकी भी मारे गए हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें