प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी नहीं लेंगे भाग गुटनिरपेक्ष देशों के शिखर सम्मेलन में

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25-26 अक्टूबर को आयोजित गुट निरपेक्ष देशों के शिखर सम्मेलन में भाग नहीं लेंगे। ये लगातार दूसरी बार है जब प्रधानमंत्री मोदी शामिल नहीं हो रहे हैं। आपकोज्ञात हो कि भारत गुट निरपेक्ष आंदोलन का संस्थापक सदस्य हैं। सरकारी सूत्रों के अनुसार, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू इस बार गुट निरपेक्ष सम्मेलन में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। गुट निरपेक्ष सम्मेलन अजरबैजान के बाकू में 25-26 अक्टूबर तक आयोजित किया जाएगा।

NAM समिट से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दूर रहने को लेकर भारत की विदेश नीति में बदलाव के रूप में देखा जा रहा है। भारत एक गुटनिरपेक्ष देश से एक ऐसे मुल्क में बदल रहा है जो बहुपक्षीय संबंधों को तरजीह देता हो। मोदी 2016 में असल मायने में पहले ऐसे भारतीय प्रधानमंत्री बने जिन्होंने गुटनिरपेक्ष देशों के राष्ट्राध्यक्षों की बैठक में शामिल नहीं हुए। उस दौरान वेनेजुएला में NAM की 17वीं शिखर बैठक हो रही थी, लेकिन उसमें भारतीय प्रधानमंत्री मोदी नहीं पहुंचे थे।

आपको ज्ञात हो कि नेपाल और बांग्लादेश जैसे भारत के पड़ोसी देश एक बार फिर NAM के प्रति आस्था जता रहे हैं और उनके प्रधानमंत्री क्रमशः केपी ओली और शेख हसीना ने शिखर बैठक में भाग लेने की पुष्टि कर दी है। मालदीव के विदेश मंत्री अब्दुल्ला शाहिद भी इसमें हिस्सा लेंगे। पिछली शिखर बैठक में भी भारत का प्रतिनिधित्व तत्कालीन उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने किया था।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें