PNB धोखाधड़ी के आरोपी चोकसी से पूछताछ की अनुमति, याचिकाओं के निपटारे के बाद किया जायेगा प्रत्यर्पित : एंटिगुआ के PM ब्राउन

न्यूयॉर्क। एंटिगुआ और बारबूडा के प्रधानमंत्री गेस्टन ब्राउन ने कहा है कि पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के आरोपी मेहुल चोकसी को भारत तब प्रत्यर्पित कर दिया जाएगा, जब उसकी याचिकाओं का निपटारा हो जाएगा। ब्राउन ने भारत के सरकारी प्रसारणकर्ता DD न्यूज से कहा कि हम कानून को मानने वाले एक देश हैं, और मामला न्यायपालिका के समक्ष है।

एंटिगुआ के प्रधानमंत्री ने चोकसी को धूर्त करार देते हुए कहा कि उसने (चोकसी) कई याचिकाएं दाखिल कर रखी हैं। और जबतक उसकी याचिकाएं निपट नहीं जातीं, हम कुछ नहीं कर सकते। उन्होंने कहा कि एंटिगुआ बारबूडा को उससे कोई लाभ नहीं है। प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि भारतीय अधिकारी उससे पूछताछ करने के लिए स्वतंत्र हैं।

उल्लेखनीय है कि चोकसी और उसका भांजा नीरव मोदी साल भर पहले देश छोड़कर भाग गए थे। दोनों 13,500 करोड़ रुपये के पीएनबी धोखाधड़ी मामले में मुख्य आरोपी हैं।

यह पूछे जाने पर कि क्या वह भारतीय अधिकारियों को एंटिगा में चोकसी से पूछताछ की अनुमति देंगे, ब्राउन ने कहा कि उन्हें कोई आपत्ति नहीं हैं। ब्राउन ने कहा कि भारतीय अधिकारी जब चाहें आकर पूछताछ कर सकते हैं, बशर्ते चोकसी भी पूछताछ में शामिल होना चाहता हो। उन्होंने कहा कि इस केस में अभी उनकी सरकार कुछ नहीं कर सकती है क्योंकि मामला अदालत में है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें