Weather Alert: दिल्ली-बिहार-राजस्थान सहित पूरा उत्तर भारत भीषण शीतलहर की चपेट में, IMD का Yellow Alert जारी

न्यूज़ डेस्क। पहाड़ों पर बर्फबारी से दिल्ली-एनसीआर, बिहार-राजस्थान, मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश सहित पूरा उत्तर भारत भीषण शीतलहर की गिरफ्त में है। दिल्ली में जहां तापमान 4 डिग्री सेल्सियस से नीचे चला गया है वहीं राजस्थान के अधिकांश इलाकों में तापमान शून्य से नीचे चला गया है। दिल्ली में रविवार को सुबह से ही ठंडी हवाओं का दौर जारी रहा, वहीं बिहार के 20 जिलों में तापमान 10 डिग्री से नीचे चला गया है। पूरे उत्तर भारत में अब शीतलहर ने दस्तक दे दी है और मौसम विभाग का कहना है कि अगले कुछ दिनों तक ठंडी बर्फीली हवाओं का दौर जारी रहेगा।

दिल्ली में रविवार की सुबह इस मौसम की सबसे सर्द सुबह रही और न्यूनतम तापमान 4.6 डिग्री सेल्यिस दर्ज किया गया। मौसम विभाग ने आज भी दिल्ली में शीतलहर चलने का अलर्ट जारी किया है और कहा है कि तापमान आज भी 4 डिग्री से नीचे रहेगा। मौसम विभाग ने कहा है कि अगले तीन दिन तक कंपकंपाने वाली ठंड से उत्तर भारत में राहत के कोई आसार नहीं हैं।

मौसम विभाग ने चेतावनी देते हुए कहा है कि उत्तर भारत में अगले तीन दिन तक भीषण शीतल लहर जारी रहेगी। विभाग ने बताया कि हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, गिलगित-बाल्टिस्तान, पंजाब-हरियाणा, राजस्थान, दिल्ली, उत्तर प्रदेश उत्तराखंड भीषण ठंड की चपेट में हैं। राजस्थान के कई इलाकों में लगातार दूसरे दिन तापमान शून्य से नीचे रहा। तो वहीं, उत्तराखंड के कुछ हिस्से में घना कोहरा छाया रहा। दिल्ली में इस मौसम का सबसे कम तापमान दर्ज किया गया।

मौसम विभाग के महानिदेशक आर के जेनामनी ने कहा, शीत लहर से 21 दिसंबर के बाद राहत मिलेगी, उसके बाद 22 दिसंबर से पश्चिमी हलचल के बाद न्यूनतम तापमान में गिरावट शुरू हो जाएगी। दिल्ली में भी सोमवार के बाद तापमान बढ़ना शुरू हो जाएगा। राजस्थान, पंजाब और हरियाणा के लिए येलो अलर्ट जारी किए गए हैं। 24 और 25 दिसंबर को दिल्ली में हल्की बारिश हो सकती है।

मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने उत्तर प्रदेश में भी शीतलहर चलने की जानकारी दी है। विभाग ने कानपुर में तापमान में गिरावट के साथ शीत लहर की स्थिति बनी रहेगी। न्यूनतम और अधिकतम तापमान क्रमश: 5 डिग्री सेल्सियस और 19 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की उम्मीद है।

रविवार को बर्फीली हवाओं के कारण राजस्थान के फतेहपुर और चूरू में तापमान लगातार दूसरे दिन भी शून्य से नीचे दर्ज किया गया। फतेहपुर में रविवार को तापमान -4.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि चूरू में तापमान -2.6 डिग्री सेल्सियस रहा। चूरू में पिछले 12 साल में सबसे ज्यादा सर्दी इस साल पड़ रही है। इसके अलावा सीकर में भी तापमान -2.5 डिग्री सेल्सियस रहा। ज्ञात हो कि कल राजस्थान के 36 स्थानों पर न्यूनतम तापमान 9 डिग्री सेल्सियस से नीचे दर्ज किया गया है।

उत्तरी-पश्चिमी हवाओं ने बिहार में भी कंपकंपी ला दी है। पिछले 24 घंटों में राज्य के कई शहरों का न्यूनतम पारा सात डिग्री नीचे चला गया और 20 शहरों का न्यूनतम तापमान दस डिग्री से भी नीचे रिकॉर्ड किया गया है। वहीं, अधिकतम तापमान में अचानक आई भारी कमी की वजह से दिन में भी कनकनी रही। पटना का न्यूनतम पारा 7.6 डिग्री पर आ गया, गया राज्य में सबसे ठंडा रहा। वहां न्यूनतम पारा 5.3 डिग्री तक पहुंच गया है।

जम्मू-कश्मीर में कड़ाके की ठंड जारी है। श्री अमरनाथ यात्रा के आधार शिविर पहलगाम में रविवार को तापमान माइनस 8.7 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया। श्रीनगर में न्यूनतम तापमान लगातार दूसरे दिन भी -6.0 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

इसे भी देखें